जैस्मीन मेहता : गीत-ग़म की ये रात खुशियों की सुबह लाएगी …

गीत– ग़म की ये रात खुशियों की सुबह लाएगी …
गायिका–जैस्मीन मेहता (अहमदाबाद)
संगीतकार -केवल कुमार
गीतकार -अशोक हमराही
👇
सुप्रसिद्ध पार्श्व गायिका जैस्मीन मेहता ने भारत के लगभग सभी बड़े शहरों और दुनिया भर के कई देशों में अपने कार्यक्रम प्रस्तुत किये हैं। उन्होंने कई हिंदी और हॉलीवुड फ़िल्मों के लिए पार्श्व गायन किया है। गुजराती लोकनृत्य (गरबा), बॉलीवुड रीमिक्स, ड्रामा, जिंगल्स, आदि में उनकी प्रतिभा सदैव सराहनीय रही है। जैस्मीन मेहता ने हाल ही में ‘मनश्रृंगार’ शीर्षक से हिंदी और गुजराती भाषा में भक्ति गीतों के 2 एल्बम जारी किये हैं, जिसमें उनके साथ भजन सम्राट अनूप जलोटा ने भी भजन गाये हैं।वह ‘प्ले बैक सिंगर’ के रूप में ‘फिल्म्स डिवीजन, सूचना और प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार’ द्वारा निर्मित महान संगीत निर्देशक रवि शर्मा पर आधारित वृत्तचित्र का भी हिस्सा रही हैं।
भारत सहित विश्व के अन्य देशों – दक्षिण अफ्रीका, यूरोप, मिडिल ईस्ट, यूएई, न्यूजीलैंड, कनाडा संयुक्त राज्य अमेरिका आदि में उनके काफ़ी प्रशंसक हैं।जैस्मीन मेहता का गाया हुआ ये गीत सुनिए… Like करिए .… Share करिए …..और अपने विचार भी अवश्य लिखिए।                                                                                                                              धन्यवाद 🙏
Attachments area

Share and Enjoy !

Share and Enjoy !

0Shares
0 0 0

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

0Shares
0